Uncategorized

भटकाव…

भटकना लिखा है 
ये तो पता था, 
कब तक भटकना है, 
ये तो बता दो…. 
नगर नगर – गली गली, 
में ढूंढा है तुमको, 
कहा पर मिलोगे, 
ये तो बता दो।। 

Photo by Andrew Neel on Pexels.com
Standard