नासमझ..

याद है तुम्हें,तुमने कहा था,की मैं नासमझ हूँ,कितनी सच थी ना तुम..देखो!मैं आज भी समझ नही पाया,‘खुद’ को..सच ..नासमझ हूँ मैं…

Continue reading

Rate this:

कठपुतली..

धीरे-धीरे उसे कठपुतली बनाया गया, वो जंगल का शेर था, उसे सर्कस के काबिल बनाया गया, बंदर हो ,भालू हो, चाहे हो मछली, पेड़ पे

Continue reading

Rate this:

मौन

सब कुछ लिखा नही जा सकता,असहायता की भाषा मौन होती है..बहुत से अहसास शब्दों से परे है,चाहे वो नितांत सुख की अनुभूति हो,निःस्वार्थ प्रेम हो,या

Continue reading

Rate this:

जरूरी है क्या?

प्रेम करना और बोलना, जरूरी है क्या,जब लोगो ने #प्रेम को,बोलना शुरू किया, प्रेम फीका होता चला गया, वो क्या #प्रेम ,जिसे जताना पड़े,करता हूँ

Continue reading

Rate this:

आंखें..

पहले मैं सुन लेता था आंखों को,अब आंखों ने बातें करना छोड़ दिया… लड़ती थी, शरमाती थी झुक जाती थी,अब आंखों ने झुकना लजाना छोड़

Continue reading

Rate this:

जिंदगी ऐसी भी होती है…

जिंदगी ऐसी भी होती है,वैसी भी होती है,जितनें लोगजितनें पलजितनी जगहें,जितनी सोच,जितना नज़रियाजितने सपनें,जितनी सफलता,जितनी हार,जितनी नफरतें,जितना प्यार,जितनी गरीबीजितना अत्याचार,जितनी अव्यवस्था,जितनी सरकार, ये जितने ,

Continue reading

Rate this:

अशीर्षक…

क्या उम्मीदें थी उसे ज़िंदगी से?क्या प्यास थी?क्या नही था उसके पास?रंग,रूप,सेहत,दौलत…शख्शियतये कौन सी टीस है,जो आत्महत्या तक ले जाती है?वो कौन सी वजह है,कितनी

Continue reading

Rate this:

मैं प्रेम में हूँ…

सिर्फ सभ्यता और व्यवस्था के बंधन के कारण तुम्हारे साथ हूँ,
ऐसा नही है….
एक अनजाना सा लगाव है..
जो तुमसे दूर जाने ही नही देता..
तुम इसे प्रेम जैसा कुछ कहना चाहो,
तो मैं तुम्हे सभ्यता के बंधनों से,
मुक्त करता हूँ..
मैं प्रेम में हूँ…

Continue reading

Rate this:

माँ

कुछ रिश्तों पे,कुछ भी लिख लेता हूँ,तुम पर लिखनाजैसे पूरी एक दुनियां लिखनी हो,छोड़ देता हूँ,तुमको लिखता नही,जीता हूँ,तुम जीवन हो,माँ…

Continue reading

Rate this:

अपने…

अपने वे नही जो, रोने के बाद आते हैं,अपने वे होते हैं ,जो रोने नही देते । दोस्त वो नही जो गिरने के बाद आते

Continue reading

Rate this:

प्रेम/Love

प्रेम करना, और बोलना, जरूरी है क्या,जब लोगो ने #प्रेम को,बोलना शुरू किया, प्रेम फीका होता चला गया, वो क्या #प्रेम ,जिसे जताना पड़े,करता हूँ

Continue reading

Rate this:

1 2 3 4 6