संबल..

सम्बल का मतलब तब समझ आया,जब खुद को उसकी तलब लगी थी,बड़ी मुश्किल से मिला था,पर जब मिला तो,आंखों से मोती बन टपक पड़ा,अब मैं

Continue reading

Rate this: